टेस्ला इलेक्ट्रिक कार की बैटरी खत्म, कंपनी ने मांगे 20 लाख रुपए!

टेस्ला मॉडल एस इलेक्ट्रिक कार उपयोगकर्ता ने सोशल मीडिया पर शिकायत की है कि उसकी कार की बैटरी खत्म होने के बाद वह कार तक नहीं पहुंच पा रहा था।

टेस्ला के मालिक का कहना है कि बैटरी पैक वारंटी में था, लेकिन उसके बाद भी टेस्ला ने बैटरी ठीक करने में 26 हजार डॉलर (करीब 21 लाख रुपये) की लागत बताई।

कार के मालिक ने अपना गुस्सा एक टिकटॉक वीडियो के जरिए निकाला, जिसमें उन्होंने कार को 'कचरे का टुकड़ा' बताया

मारियो ज़ेलया नाम के एक शख्स ने पिछले हफ्ते टिकटॉक पर एक वीडियो पोस्ट किया था

जिसमें दुनिया को अपनी टेस्ला इलेक्ट्रिक कार में एक बड़ी खराबी का पर्दाफाश करने के लिए दिखाया गया था

ज़ेलया ने कहा कि उनके मॉडल एस की बैटरी पूरी तरह से मृत हो गई थी, जिससे कार स्थायी रूप से लॉक हो गई थी।

इस वजह से वह चाहकर भी कार के अंदर नहीं जा सकते। उन्होंने कहा कि कार की बैटरी वारंटी कवरेज के तहत थी

लेकिन इसके बावजूद कंपनी बैटरी पैक को बदलने के लिए लगभग 26,000 डॉलर की लागत बता रही है।

टेस्ला के मालिक ने वीडियो में लिखा है कि उनके पास इस कार को खरीदने के लिए दो ग्राहक हैं, जो उन्हें कार के 20 हजार डॉलर (करीब 16 लाख रुपये) देने की बात कर रहे हैं

लेकिन लॉक के कारण वह कार अंदर मौजूद है। दस्तावेज नहीं मिल पा रहे हैं। उन्होंने आगे बताया कि कार चार्ज भी नहीं हो रही थी.

ज़ेलिया ने कहा, "इसीलिए आपको कभी भी टेस्ला नहीं खरीदना चाहिए।" उन्होंने गुस्से में कार को "कचरे का टुकड़ा" भी कहा।

ज़ेलिया का कहना है कि उन्होंने इस कार को 2013 में 140,000 डॉलर में खरीदा था। खबर लिखे जाने तक वीडियो को 12 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका था।