ज्यादातर लोग कार के शीशे गलत सेट करके रखते हैं! जानिए सही तरीका 

एक कार में आम तौर पर तीन रियर-व्यू मिरर होते हैं - एक IRVM ) और दो ORVM, ORVMs कार के बाएँ और दाएँ दोनों तरफ स्थित हैं।

कई कारों में इन्हें मैन्युअली एडजस्ट किया जाता है और कई कारों में ये इलेक्ट्रिक एडजस्टमेंट के साथ आती हैं।

लेकिन, क्या आप जानते हैं कि कार के रियर व्यू मिरर को कैसे एडजस्ट किया जाता है?

अगर हां, तो यह अच्छी बात है लेकिन बहुत से लोगों को ऐसा करने का सही तरीका नहीं पता होता है।

रियर व्यू मिरर को ठीक से एडजस्ट किया जाना चाहिए। इनके गलत समायोजन से ब्लाइंड स्पॉट का दायरा बढ़ जाता है

जिससे दुर्घटना का खतरा भी बढ़ जाता है। वहीं, रियर व्यू मिरर को ठीक से एडजस्ट करके ब्लाइंड स्पॉट के दायरे को कम किया जा सकता है।

ऐसा कहा जाता है कि अच्छी रियर विजिबिलिटी के लिए ओआरवीएम को इस तरह से एडजस्ट किया जाना चाहिए कि इसके पीछे की सड़क का कम से कम दो-तिहाई हिस्सा दिखाई दे

और बाकी का शीशा (अंदर की तरफ) कार का एक हल्का कॉर्नर दिखाए। ऐसा दोनों ओआरवीएम के लिए करें।

इसके बाद, IRVM को इस तरह से समायोजित करें कि इसमें रियर विंडस्क्रीन का अधिकतम दृश्य हो

ठीक से एडजस्ट किया गया तो इसमें पूरा रियर विंडस्क्रीन देखा जा सकता है। ऐसा करने से IRVM में पीछे का दृश्य दिखाई देगा

जो ORVM में दिखाई नहीं दे सकता है और वह दृश्य ORVM में दिखाई देगा, जो IRVM में दिखाई नहीं दे सकता है।

यहां आपको बता दें कि शीशे को एडजस्ट करने से पहले अपनी ड्राइविंग सीट को सही पोजीशन में एडजस्ट कर लें।